प्रधानमंत्री मोदी ने मोरबी पुल दुर्घटना स्थल का किया निरीक्षण, अस्पताल जाकर घायलों से मुलाकात की

नई दिल्ली (एजेंसियां) प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने मोरबी में पुल दुर्घटना स्थल का दौरा किया। इस बीच उन्होंने घटना वाले दिन के बारे में भी अधिकारियों से बात की। बता दें कि रविवार शाम मोरबी में पुल हादसे में 130 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई.
मोरबी में पुल दुर्घटनास्थल पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. उन्होंने दुर्घटनास्थल का दौरा करने से पहले दुर्घटना को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक भी की. प्रधानमंत्री ने अस्पताल जाकर घायलों से मुलाकात की.
अंग्रेजों के जमाने का यह पुल जिसे कई महीनों की मरम्मत के बाद खोला गया था। पिछले रविवार को टूट गया। इस घटना में 47 बच्चों समेत 130 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी।
पुलिस के मुताबिक, पुल जिस वक्त गिरा उस वक्त उस पर 500 से ज्यादा लोग सवार थे. जबकि इस ब्रिज की क्षमता सिर्फ 125 लोगों के भार को वहन करने की थी।
ऑरेवा कंपनी द्वारा मरम्मत के बाद पुल को खोला गया। इस पुल के उद्घाटन से पहले प्रशासन से फिटनेस सर्टिफिकेट भी नहीं लिया गया था.
ऑरेवा कंपनी को मरम्मत के लिए आठ से बारह महीने के लिए पुल को बंद करना पड़ा था। लेकिन लापरवाही के चलते कुछ माह तक मरम्मत के बाद ही इसे खोला गया।
रविवार को ब्रिज देखने के लिए 400 से ज्यादा लोगों ने टिकट बुक कराया था। टिकट की कीमत 12 और 17 रुपये तय की गई थी।
गुजरात फोरेंसिक लैब के मुताबिक, जांच में पाया गया है कि पुल इसलिए गिरा क्योंकि उस पर एक समय में बहुत सारे लोग चढ़ गए थे।
सूत्रों के मुताबिक इस पुल की मरम्मत के दौरान ऑरेवा कंपनी ने पुरानी केबल को नहीं बदला.
इस घटना के बाद पुलिस ने ओरिवा कंपनी के दो अधिकारियों समेत कुल 9 लोगों को गिरफ्तार किया है.
इस पुल के ढहने का वीडियो वायरल हो रहा है. जिसमें पुल गिरने के बाद लोग एक दूसरे के ऊपर गिरते नजर आ रहे हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.