पाकिस्तान में फिर मीडिया पर गिरी गाज, दो न्यूज चैनल बैन हुए तो भड़के इमरान

पाकिस्तान की शाहबाज शरीफ सरकार ने एक बार फिर से मीडिया पर स्ट्राइक करते हुए दो चैनलों के प्रसारण पर रोक लगा दी है। बताया जा रहा है कि इस चैनल के ऊपर शाहबाज शरीफ की टेढ़ी नजर काफी समय से थी और इस चैनल पर यह भी आरोप लगाए जा चुके हैं कि वह सिर्फ इमरान खान के समर्थन वाली खबरें ही दिखाता है। बैन लगते ही इमरान खान ने सरकार पर जमकर भड़ास निकाली है।

बैन करते हुए कारण भी बताया गया
दरअसल, अपने एक आदेश में पाकिस्तान में मीडिया पर निगरानी रखने वाली संस्था पेमरा ने सोमवार को कराची के दो टीवी चैनलों बोल न्यूज और बोल इंटरटेनमेंट का प्रसारण बंद करने का फैसला किया। डॉन की एक रिपोर्ट के मुताबिक इन दोनों चैनलों को बैन करते हुए कारण भी बताया गया है कि इनका प्रसारण क्यों रोक दिया गया है।

लाइसेंस रद्द करने का फैसला किया
रिपोर्ट के मुताबिक बताया गया कि इन दोनों चैनलों के संबंध में गृह मंत्रालय से सिक्योरिटी क्लीयरेंस नहीं मिला था। इसलिए गृह मंत्रालय से सुरक्षा मंजूरी मिलने तक चैनलों को संचालन की मंजूरी नहीं दी जा सकती। सरकारी आदेश के मुताबिक गृह मंत्रालय के सभी रिकॉर्ड, अदालती आदेश और नोटिस की समीक्षा की और तत्काल प्रभाव से बोल न्यूज और बोल इंटरटेनमेंट चैनल का लाइसेंस रद्द करने का फैसला किया है।

पूर्व पीएम इमरान बुरी तरह भड़क गए
उधर जैसे ही दोनों चैनलों पर बैन लगाया गया पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान बुरी तरह भड़क गए। उन्होंने लिखा कि आज पाकिस्तान में हम जिस फासीवाद और सेंसरशिप को देख रहे हैं, ऐसा हमने पहले कभी नहीं देखा। सरकार मीडिया और पत्रकारों पर सेंसरशिप लगा रही है और फासीवादी स्तर तक उनका उत्पीड़न कर रही है। अब बोल न्यूज का लाइसेंस सिर्फ इसलिए रद्द कर दिया क्योंकि वह हमारी कवरेज कर रहा था।

बता दें कि इससे पहले भी शाहबाज सरकार ने मीडिया पर कार्रवाई करते हुए चैनलों को बैन किया था। कुछ दिन पहले ही देश के नामी एआरवाई न्यूज चैनल का प्रसारण बंद कर दिया गया था। यह तब हुआ था जब पाकिस्तान सरकार एक आदेश सामने आया। आदेश के मुताबिक इस चैनल के प्रसारण पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी गई है और अब इसका प्रसारण अगल आदेश तक नहीं हो सकेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.