देश का सबसे बड़ा कार चोर:27 साल में 5000 कार चुराईं, टैक्सी ड्राइवरों का मर्डर किया; 3 बीवियों और 7 बच्चों का है परिवार

दिल्ली पुलिस ने सोमवार को देश के सबसे बड़े कार चोर अनिल चौहान को गिरफ्तार कर लिया। अनिल चौहान पर 5000 कारें चुराने का आरोप है। पुलिस का कहना है कि 52 साल के अनिल ने चोरी के दम पर दिल्ली, मुंबई और नॉर्थ ईस्ट में कई प्रॉपर्टी खरीदी हैं। वह रईसी वाली जिंदगी जी रहा था। पुलिस के मुताबिक, अनिल की तीन बीवियां और सात बच्चे हैं।

पुलिस का दावा है कि यह देश का सबसे बड़ा कार चोर है। इसने 27 साल में 5000 से ज्यादा कार चुराई हैं। सेंट्रल दिल्ली पुलिस के स्पेशल स्टाफ को अनिल के बारे में जानकारी मिली थी। इसके बाद उसे देशबंधु गुप्ता रोड से पकड़ा गया। पुलिस ने उसके पास से छह पिस्टल और सात कारतूस बरामद किए हैं।

कार चोरी के दौरान टैक्सी ड्राइवरों का मर्डर किया
दिल्ली के खानपुर इलाके में रहते हुए अनिल ऑटोरिक्शा चलाने का काम करता था। 1995 के बाद उसने कार चुराना शुरू किया। 27 साल में उसने सबसे ज्यादा मारुति 800 मॉडल चुराया। अनिल देश के अलग-अलग इलाकों से कार चुराकर उन्हें नेपाल, जम्मू-कश्मीर और पूर्वोत्तर राज्यों को भेजता था। चोरी के दौरान उसने कई टैक्सी ड्राइवरों का मर्डर भी किया।

इसके बाद वह असम जाकर रहने लगा। कार चोरी करके कमाई संपत्ति से उसने दिल्ली, मुंबई और पूर्वोत्तर राज्यों में प्रॉपर्टी खरीदीं। वह असम में सरकारी कॉन्ट्रैक्टर बन गया था और वहां के लोकल लीडर्स के संपर्क में था।

मनी लॉन्ड्रिंग और हथियारों की तस्करी में भी शामिल
पुलिस के मुताबिक, अनिल फिलहाल हथियारों की तस्करी में शामिल है। उस पर आरोप है कि उसने उत्तर प्रदेश से हथियार लाकर पूर्वोत्तर राज्यों के प्रतिबंधित संगठनों को सप्लाई किए। प्रवर्तन निदेशालय ने उसके खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस भी दर्ज किया था।

कई बार गिरफ्तार हुआ था अनिल
अनिल को पुलिस ने कई बार गिरफ्तार किया था। 2015 में एक बार वह कांग्रेस MLA के साथ गिरफ्तार किया गया था। तब उसने पांच साल जेल में बिताए और 2020 में रिहा हुआ। उसके खिलाफ 180 केस दर्ज हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.