PFI पर छापे के खिलाफ विरोध मार्च निकालेगी तमिलनाडु की VCK पार्टी

 

 

चेन्नई: तमिलनाडु की दलित वर्गों की मुख्य राजनीतिक पार्टी विदुथलाई चिरुथिगल काची (VCK) राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) द्वारा पापुलर फ्रंट आफ इंडिया (PFI) के नेताओं की गिरफ्तारी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगी।

दैनिक जागरण न्यूज़ पोर्टल के अनुसार VCK के संस्थापक नेता और सांसद थोल थिरुमावलवन ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि PFI एक पारदर्शी सामाजिक आंदोलन है। उन्होंने कहा कि PFI के वरिष्ठ नेताओं की गिरफ्तारी और देशभर में इसके कार्यालयों पर की गई छापेमारी निंदनीय है।

थिरुमावलवन ने कहा कि PFI पर हुई कार्रवाई के विरोध में VCK विरोध मार्च निकालेगी। उन्होंने कहा कि जब से नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री का पद संभाला है, तब से पापुलर फ्रंट आफ इंडिया (PFI) के खिलाफ कार्रवाई शुरू हो गई है। उन्होंने कहा कि PFI और इसके राजनीतिक दल सोशल डोमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (SDPI) समाज में गरीब तबके के लोगों के लिए काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि ये संगठन गरीब लोगों को ऊपर उठाने के लिए प्रयासरत है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.