ज्ञान वापी मस्जिद विवाद: कथित ‘शिवलिंग’ की नहीं होगी कार्बन डेटिंग, वाराणसी कोर्ट ने खारिज की हिंदू पक्ष की याचिका

नई दिल्ली (एजेंसी) वाराणसी कोर्ट ने ज्ञान वापी मस्जिद परिसर में कथित शिवलिंग की कार्बन डेटिंग की मांग वाली याचिका खारिज कर दी है। यह याचिका हिंदू पक्ष द्वारा दायर की गई थी जिसका मुस्लिम पक्ष ने कड़ा विरोध किया था। इस संबंध में वाराणसी कोर्ट ने पिछली सुनवाई में दोनों पक्षों की दलीलें सुनी और 14 अक्टूबर को फैसला सुनाया.
वाराणसी कोर्ट के जिला न्यायाधीश अजय कृष्ण विश्वेश ने आज कथित शिवलिंग की कार्बन डेटिंग याचिका खारिज कर हिंदू पक्ष को झटका दिया। याचिका को खारिज करते हुए वाराणसी की अदालत ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि जिस स्थान पर कथित शिवलिंग मिला है, उसे संरक्षित किया जाना चाहिए। ऐसे में अगर कार्बन डेटिंग के दौरान कथित शीविंग क्षतिग्रस्त हो जाती है तो यह सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन होगा। वहीं, वाराणसी कोर्ट ने यह भी कहा कि कार्बन डेटिंग के दौरान कथित शिवलिंग को किसी भी तरह की क्षति से लोगों की धार्मिक भावनाओं को भी ठेस पहुंच सकती है.
गौरतलब है कि इससे पहले वाराणसी कोर्ट ने श्रृंगार गोरी-ज्ञान वापी मामले को ‘पूजा स्थल अधिनियम 1991’ को खारिज करते हुए सुनवाई के योग्य माना था। तभी से इस मामले में सुनवाई चल रही है. इस बीच हिंदू पक्ष की 4 महिला याचिकाकर्ताओं ने याचिका दायर कर कार्बन डेटिंग की मांग की थी। इस मांग को आज कोर्ट ने खारिज कर दिया। हालांकि श्रृंगार गोरी में पूजा की अनुमति संबंधी मामले पर सुनवाई जारी रहेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.