Browsing Tag

नफरत भरे भाषणों से लोकतांत्रिक आत्मा का अपमान होता है

नफरत भरे भाषणों से लोकतांत्रिक आत्मा का अपमान होता है

डॉ. मोहम्मद मंजूर आलम लोकतंत्र को उन लोगों की भागीदारी और स्वतंत्र इच्छा से परिभाषित किया जाता है जिन पर वह शासन करता है। लोकतांत्रिक राज्यों को लोकतंत्र की सर्वोत्कृष्टता-समानता, न्याय, स्वतंत्रता और बंधुत्व- को बनाए रखना…
Read More...