बिहार : सिवान में 8 साल का मुस्लिम बच्चा हिंसा के आरोप में गिरफ्तार

 

सिवान (मकतूब मीडिया ) बिहार के सीवान जिले के बरहरिया शहर में गुरुवार को मुस्लिम विरोधी हिंसा के बाद, पुलिस ने 8 साल के एक लड़के सहित हिंसा भड़काने के आरोप में एक स्थानीय मस्जिद से लगभग एक दर्जन मुस्लिम लोगों को गिरफ्तार किया।

पुलिस ने 70 वर्षीय मोहम्मद यासीन और उसके आठ वर्षीय पोते रिजवान कुरैशी को गिरफ्तार किया है, जबकि उनके परिवार का कहना है कि दोनों निर्दोष हैं. यासीन की हाल ही में दो सर्जरी हुई थीं और उसे अन्य स्वास्थ्य संबंधी बीमारियां थीं।

 

उनके परिवार के अनुसार, उन पर हिंसा भड़काने का मामला दर्ज किया गया और उन्हें हिरासत में रखा गया।

रिजवान के भाई अजहर ने मकतूब से कहा, “मेरे छोटे भाई को एक निजी वार्ड में रखा गया था और मेरे परिवार को शुरू में उससे मिलने नहीं दिया गया था। जब मेरी मां ने उसे देखा तो वह हथकड़ी लगाकर डर गया था। वह इतना डरा हुआ था कि अपनी मां को पहचान ही नहीं पा रहा था। बच्चा बस घर वापस जाने के लिए रो रहा था।”

 

उन्हें कथित तौर पर कमर में रस्सी बांधकर अदालत में पेश किया गया। रिजवान के परिवार ने बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र पेश किया है लेकिन पुलिस अधिकारी कथित तौर पर उसकी रिहाई के लिए पैसे की मांग कर रहे हैं।

 

अंग्रेजी पोर्टल’ मकतूब मीडिया’ की रिपोर्ट के मुताबिक महावीर अखाड़ा रैली के दौरान बरहरिया की मुस्लिम बहुल सड़कों पर हिंसा भड़क उठी. मुस्लिम इलाके में प्रवेश करते समय हिंदू भीड़ इस्लामोफोबिक नारे लगाते हुए और अश्लील गाने बजाते हुए कैमरे में कैद हो गई। पुरुष तलवारों और लाठियों से लैस थे।

इसी बात को लेकर दो गुटों में मारपीट हो गई। बाद में मुस्लिम घरों को पथराव और तोड़फोड़ का निशाना बनाया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.