विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से मुलाकात की और कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की

नई दिल्ली (एजेंसी) भारत और सऊदी अरब के बीच पुराने आर्थिक और सामाजिक-सांस्कृतिक संबंधों को मजबूत करने के लिए विदेश मंत्री एस. जयशंकर शनिवार को सऊदी अरब पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने आपसी सहयोग, साझा विकास, समृद्धि, स्थिरता, सुरक्षा और विकास के मुद्दों पर कई बैठकों में हिस्सा लिया। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से मुलाकात की और उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लिखित संदेश सौंपा। इस बीच, उन्होंने क्राउन प्रिंस को द्विपक्षीय संबंधों में प्रगति की जानकारी दी।

विदेश मंत्री ने ट्वीट कर मुलाकात की जानकारी दी
विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ट्वीट किया, “आज शाम जेद्दा में क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान से मिलें। उन्हें पीएम मोदी का संदेश सौंपा और हमारे द्विपक्षीय संबंधों में प्रगति से अवगत कराया। हमारे रिश्ते पर अपने विचार साझा करने के लिए धन्यवाद।

भारतीय समुदाय को भी संबोधित
विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सऊदी अरब में भारतीय समुदाय को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि वंदे भारत मिशन के तहत दुनिया भर से कम से कम 70 लाख लोगों को देश वापस लाया गया है. उन्होंने कहा कि इस मिशन के तहत हम दुनिया भर से 70 लाख भारतीयों को वापस लाए और किसी ने ऐसा नहीं किया. यह दुनिया की सबसे बड़ी निकासी (अपने लोगों को वापस लाने का मिशन) है, जिसे कोविड के दौरान अंजाम दिया गया था। उन्होंने कहा कि आज पूरी दुनिया की नजर भारत पर है. रियाद में भारतीय दूतावास के अनुसार, सऊदी अरब में लगभग 2.2 मिलियन भारतीय हैं, जो यहां का सबसे बड़ा प्रवासी (एनआरआई) समुदाय है।
विदेश मंत्री ने रविवार सुबह रियाद में प्रिंस सऊद अल-फैसल इंस्टीट्यूट ऑफ डिप्लोमैटिक स्टडीज में राजनयिकों को संबोधित किया। एस जयशंकर ने ट्वीट किया कि उन्होंने आज सुबह रियाद में प्रिंस सऊद अल फैसल इंस्टीट्यूट ऑफ डिप्लोमैटिक स्टडीज में राजनयिकों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि भारत-सऊदी संबंध ऐसे समय में बहुत महत्वपूर्ण हो गए हैं जब दुनिया कई समस्याओं का सामना कर रही है। अपने दूसरे ट्वीट में एस जयशंकर ने कहा कि दोनों देश आपसी सहयोग, साझा विकास, समृद्धि, स्थिरता, सुरक्षा और विकास का वादा करते हैं।

सऊदी अरब और भारत के बीच अच्छे व्यापारिक संबंध
भारत के कच्चे तेल के आयात में सऊदी अरब का योगदान 18 प्रतिशत से अधिक है। वित्तीय वर्ष 22 अप्रैल से दिसंबर के दौरान द्विपक्षीय व्यापार 29.28 अरब डॉलर का था। इस अवधि के दौरान, सऊदी अरब से भारत का आयात 22.65 अरब डॉलर और सऊदी अरब को निर्यात 6.63 अरब डॉलर था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.