दंगा मुक्त यूपी’ का दावा निकला झूठा! NCRB की रिपोर्ट में खुलासा: पिछले पांच साल में हूए 35,040 दंगे।

 

उत्तरप्रदेश में पिछले पांच सालों में एक भी दंगा नहीं हुआ है। उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ये दावा गलत निकला है। एक हफ़्ते पहले बिजनौर में एक सभा के दौरान सीएम योगी ने कहा था कि पिछले पांच सालों में यूपी में कोई दंगा नहीं हुआ है।

उन्होंने कहा कि “एक समय था जब उत्तरप्रदेश दंगों के लिए जाना जाता था। हाल ही में जारी एनसीआरबी की रिपोर्ट के आधार पर ये कहा जा सकता है कि पिछले पांच सालों में प्रदेश में कोई दंगा नहीं हुआ है. यूपी दंगा मुक्त हो गया है।”

हालांकि फैक्ट चेक में सीएम योगी का ये दावा गलत निकला है. फैक्ट चेकर बेवसाइट ने सीएम योगी के इस दावे की पड़ताल की और पिछले पांच सालों की एनसीआरबी की रिपोर्ट देखी।

तथ्यों की जांच करने के बाद ये बात सामने आई कि एनसीआरबी आंकड़ों के मुताबिक, उत्तरप्रदेश में 2017 से 2021 तक दंगों के 35,040 मामले दर्ज हुए हैं. जो सीएम योगी के दावों को गलत बताते हैं।

2021 में दंगों की संख्या 2017 के मुकाबले 41 प्रतिशत कम है. 2021 में 5,302 दंगे हुए जबकि 2017 में 8,990 दंगे हुए. पिछले पांच सालों में दंगा पीड़ितों की संख्या भी 49 फीसद कम हुई है।

योगी आदित्यनाथ ने दावा किया कि उनके कार्यकाल में कोई भी सांप्रदायिक दंगा नहीं हुआ है. योगी का ये दावा भी गलत साबित हुआ है।

एनसीआरबी के मुताबिक, यूपी में 2017 से 2021 के बीच सांप्रदायिक दंगों के 35 मामले सामने आए हैं। हालांकि सांप्रदायिक दंगों में भारी गिरावट देखी गई है।

2017 से 2021 के बीच सांप्रदायिक दंगों में 97 प्रतिशत की भारी कमी आई है. एनसीआरबी के आंकड़े बताते हैं कि साल 2018,2019,2020 में यूपी मे कोई सांप्रदायिक दंगा नहीं हुआ है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.