मध्य प्रदेश: नीमच जिले में स्थित भेडा़ पीर दरगाह बलास्ट मामले की सही तरीके से की जाए जांच: इंदौर हाई कोर्ट

 

स्थानीय संगठन (MIC) के प्रतिनिधि मंडल ने एएसपी से की मुलाक़ात। न्यायलय के फैसले से कराया अवगत, तीन दिन में कार्यवाही की रखी मांग ।

नीमच :

मध्य प्रदेश के जिला नीमच की तहसील सिंगोली के थाना रतनगढ़ की पुलिस चौकी जाट के करीब स्थित भेडा़ पीर दरगाह ब्लास्ट मामले में इंदौर हाई कोर्ट ने अहम फैसला सुनाया है। कोर्ट ने ज़िला मुस्लिम इंतिजामिया कमेटी नीमच के जिलाध्यक्ष गुलाम रसूल पठान की याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि: “नीमच पुलिस ने इस मामले में सही तरीके से तहकीकात नहीं की है।” कोर्ट ने फैसले में याचिकाकर्ता से इस मामले को नीमच एसपी के समक्ष दोबारा पेश करने को कहा है। शनिवार को एमआईसी सदर गुलाम रसूल पठान, उपाध्यक्ष छोटे खां कुरैशी, सह-सचिव जावेद दुर्रानी समेत कमेटी के अन्य पदाधिकारियों ने एएसपी एस.एस.कनेश से मुलाक़ात की, और उनको कोर्ट के फैसले से अवगत कराया।

गुलाम रसूल पठान ने कहा कि भेड़ा पीर दरगाह ब्लास्ट मामले में कुछ आरोपी पुलिस ने पकड़े थे, लेकिन राजनीतिक दबाव में उन्हें छोड़ दिया गया। इस घटना को एक वर्ष होने वाला है, लेकिन पुलिस अब तक इस के आरोपियों तक नहीं पहुंच पाई है। कोर्ट ने इस मामले में सही जांच कर आरोपियों को सज़ा दिलाने के निर्देश दिए हैं। जिसके लिए आज एएसपी से मिलकर उन्हें कोर्ट के फैसले से अवगत कराया है। यदि तीन दिन के भीतर पुलिस कोई कार्यवाही नहीं करती है तो हम कोर्ट के आदेश की अवहेलना के मामले में न्यायालय की शरण में जाएंगे। इस दौरान पठान ने उन पर की गई रासुका की कार्यवाही के खिलाफ भी कोर्ट में जाने की बात कही।

बता दें कि पिछले साल अक्टूबर में उक्त भेड़ा पीर दरगाह पर ब्लास्ट और वहां के खादिम व जा़इरीन के साथ मारपीट का मामला सामने आया था। जिसके विरोध में नीमच जि़ले के मुस्लिम समाज ने भारी विरोध प्रदर्शन कर दरगाह पर हमला करने और वहां के लोगों के साथ मार पिटाई के दोषियों को गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की थी। शुरू शुरू में पुलिस ने दोषियों को पकड़ने में थोड़ी बहुत दिलचस्पी दिखाई, लेकिन किसी कारण पुलिस ने इस मामले को ठंडा कर दिया, तो मुस्लिम समाज ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया, जहां से इस मामले की सही जांच करने और दोषियों को गिरफ्तार करने के आदेश मिलने पर मुस्लिम समाज में इंसाफ की उम्मीद जागी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.